कैशलेस ट्रांजेक्‍शन से मिलेगी जीएसटी में छूट

कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार एक बड़ा फैसला लेने जा रही है। सूत्रों की माने तो बहुत जल्‍द ये घोषणा होने वाली है कि कैशलेस ट्रांजेक्‍शन पर टैक्‍स में 2 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। आने वाले दिसंबर में जीएसटी काउंसिल की बैठक में इस पर फैसला लिया जाएगा। यह छूट केवल कुल बिल पर उन्हीं लोगों को मिलेगी जो बिल का भुगतान करने के लिए डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और ई-वॉलेट का इस्तेमाल करेंगे।

जीएसटी में मिलेगी छूट

जीएसटी भरने में भी यह छूट दी जाएगी। इसमें एक फीसदी छूट सीजीएसटी पर और एक फीसदी एसजीएसटी पर मिलेगी। एक समाचार पत्र के मुताबिक, वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस कदम से टैक्‍स की चोरी कम होगी। यहां मिलने वाली छूट ज्‍यादा से ज्‍यादा 100 रूपए ही होगी।

पेश की जाएंगी दो कीमतें

उपभोक्ताओं को दो कीमतों की पेशकश की जाएगी। इनमें से एक में नकद भुगतान के साथ खरीदारी करने पर सामान्य जीएसटी दर लगेगा जबकि डिजिटल भुगतान पर जीएसटी में 2 फीसदी की छूट मिलेगी।

इस छूट का मतलब यह है कि सरकार राजस्‍व से ज्‍यादा ध्‍यान कैश फ्लों को कम करके ब्‍लैक मनी के सर्कुलेशन को पूरी तरह से रोकने पर ज्‍यादा ध्‍यान दे रही है। इससे आने वाले समय पर देश की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। हालांकि ये एजेंडा पहले से ही था लेकिन 10 नवंबर को गुवाहाटी में हुई पिछली बैठक में इस प्रस्‍ताव पर चर्चा नहीं हो पाई।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here