गुजरात चुनाव में कांग्रेस के साथ आए पाटीदार

कांग्रेस के गुजरात चुनाव के टिकट बंटने से गुस्‍साएं पाटीदार समर्थक और कांग्रेस समर्थकों के बीच हुई मारपीट के बाद इस बात के आसार कम थे कि अब हार्दिक कांग्रेस का साथ देंगे। लेकिन जब हार्दिक ने 22 नवंबर को प्रेस कांफ्रेस की और कांग्रेस के समर्थन की बात की तो सब दंग रह गए।

हार्दिक ने अपनी कांफ्रेंस में कहा कि उनकी कांग्रेस से कोई टिकट की बात हुई ही नहीं थी इसलिए नाराज होने की तो बात ही नहीं है। इसके उलट कांग्रेस ने हमारी सारी मांगे मान ली हैं और वह सरकार में आते ही पाटीदारों को आरक्षण देगी। यह आरक्षण 49 प्रतिशत से ज्‍यादा भी हो सकता है।

इस महत्‍वपूर्ण प्रेस कांफ्रेस में हार्दिक की कुछ विशेष बिंदू-

-गुजरात के हित में हमारी मांग।
-पाटीदार आरक्षण पर कांग्रेस ने मांग मानी।
-सत्ता में आते ही आरक्षण पर बिल लाएगी कांग्रेस।
-50 फीसद से ज्यादा आरक्षण दिया जा सकता है।
-दूसरे राज्यों में इससे भी ज्यादा आरक्षण।
-भाजपा की नीयत में खोट है।
-मैं किसी राजनीतिक दल से नहीं जुड़ूंगा।
-हमारे संयोजकों को खरीदने की कोशिश हुई।
-गुजराती खुद को मुर्ख न साबित होने दें।
-भाजपा के खिलाफ लड़ाई जरूरी।
-पाटीदारों का सर्वे कराएगी कांग्रेस
-हम कांग्रेस के एजेंट नहीं। मैं जनता का एजेंट हूं
-ढाई साल तक पार्टी नहीं ज्वाइन करूंगा।
-बीजेपी से लड़ने के लिए कांग्रेस को समर्थन।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here