IIFI में श्रृद्धा कपूर, याद किया अपना संघर्ष

अभिनेत्री श्रद्धा कपूर जाने माने कलाकार शक्ति कपूर की बेटी हैं। बॉलीवुड के इस परिवार से होने के बाद भी फिल्‍म के लिए उन्‍हें संघर्ष करना पड़ा। यही बात श्रद्धा ने IIFI में कही कि अपने पहले ब्रेक के लिए उन्‍हें काफी संघर्ष करना पड़ा।

श्रद्धा ने यहां कहा, ‘‘मैं फिल्मों में आने के लिए बेताब थी। मेरे अंतर्मन से आवाज आती थी कि अभिनय ही वह पेशा है जिसे मैं अपनाना चाहती हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘बहुत लोग यह मानते हैं कि अगर आप किसी अभिनेता के बेटे या बेटी हैं तो आपको ऑडिशन देने की जरुरत नहीं होती लेकिन मामला ऐसा नहीं है। मैंने फिल्मों में आने के लिए बहुत संघर्ष किया। मैं गिन नहीं सकती कि मैंने कितने ऑडिशन दिए। यह आसान नहीं है। मेरी पहली दो फिल्में कुछ खास नहीं कर सकी और यह मुश्किल था। लेकिन ‘आशिकी 2’ की सफलता ने मुझे नया उत्‍साह दिया और मेरे लिए चीजें बदल गईं।’’

श्रृद्धा ने महोत्सव के 48वें संस्करण में एंटरटेनमेंट सोसायटी ऑफ गोवा के बायोस्कोप विलेज ‘पहल’ का उद्घाटन किया। अब बॉलीवुड में कई फिल्‍में कर चुकी इस अभिनेत्री ने कहा वो अपनी हर फिल्‍म से कुछ न कुछ सीखना चाहती हैंं और सीखती भी हैं।

बॉक्स ऑफिस में उनकी पिछली फिल्म ‘‘हसीना पारकर’’ कुछ खास कमाल नहीं कर पाई थी लेकिन अभिनेत्री ने कहा कि वह इससे निराश नहीं है। श्रद्धा अपनी अगली फिल्म ‘साहू’ में ‘बाहूबली’ स्टार प्रभास के साथ दिखाई देंगी और वह इस फिल्म को लेकर बहुत उत्साहित भी हैं। श्रद्धा ‘साइना नेहवाल’ की बायोपिक में भी काम कर रही हैं। इस फिल्‍म के लिए वह बैडमिंटन खेलना सीख रही हैं और इसके लिए वह साइना के साथ अभ्यास भी कर रही हैं।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here