how to crack jee advance

नई दिल्ली: जेईई मेन (JEE Main) में अच्छी रैंक पाने के इच्छुक उम्मीदवारों के पास पहले से बेहतर करने के लिए अब दूसरा मौका भी उपलब्ध है। 2019 से वर्ष में दो बार जेईई मेन परीक्षा आयोजित करने के एनटीई के निर्णय से, कई उम्मीदवारों को एक अतिरिक्त लाभ मिल रहा है।

जो छात्र पहले प्रयास में चूक गए या जेईई एडवांस के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपनी रैंकिंग में सुधार करना चाहते हैं, उनके लिए अपनी तैयारी में सुधार करने का यह बेहतर मौका है। पहली मेन परीक्षा के प्रयास को मॉक टेस्ट माना जाना चाहिए जो विस्तृत विश्लेषण और आगे की तैयारी के लिए कमजोर क्षेत्रों को जानने और समझने में सहायक साबित होगा।

जेईई मेन का दूसरा सत्र 7 अप्रैल से आयोजित होने वाला है। पहला पेपर (बी.ई. / बी.टेक.) 8, 9, 10 और 12 अप्रैल, 2019 को होगा, और दूसरा पेपर (बी.आर्क. / बी. प्लानिंग) 7 अप्रैल, 2019 को आयोजित होगा।

जेईई मेन 2019 के जनवरी या अप्रैल दोनों में हासिल अधिक अंकों पर जेईई मेन 2019 की मेरिट सूची तैयार करते समय विचार किया जाएगा। इस बार जेईई मेन 2019 के जनवरी और अप्रैल सत्र कंप्यूटर आधारित टेस्ट हैं।

जेईई मेन 2019 कट ऑफ को क्लीयर करने वाले छात्र 19 मई 2019 को जेईई एडवांस के लिए उपस्थित हो सकेंगे। जेईई मेन के पिछले कट ऑफ छात्रों के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे, क्योंकि देश के सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक को क्रैक करने की इच्छा रखने वाले छात्र इससे प्रेरित होते हैं।

फिटजी के विशेषज्ञ रमेश बैटलिश ने कहा, ”पहली मेन परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को इसे एक मॉक टेस्ट के रूप में लेना चाहिए जो विस्तृत विश्लेषण और आगे की तैयारी के लिए कमजोर क्षेत्रों को जानने और समझने में सहायक साबित होगा। पिछले साल के पेपर की प्रवृत्ति को जानना छात्रों के लिए आसान और उपयोगी साबित होगा।

परीक्षा को क्रैक करने के लिए समय का प्रबंधन करना, भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित प्रत्येक विषय में महत्वपूर्ण टॉपिक पर फोकस करना और परीक्षा के पैटर्न के बारे में जानकारी होना जैसे कुछ महत्वपूर्ण सुझाव लाभदायक साबित होंगे। “

जेईई मेन 2019 अप्रैल का परिणाम 30 अप्रैल (पहला पेपर) और 15 मई (दूसरा पेपर) को घोषित किया जाएगा। जेईई मेन 2019 का परिणाम एनआईटी, आईआईआईटी और जीएफटीआई में स्नातक कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए गेटवे के रूप में भी काम करेगा।

जेईई मेन 2019 के दूसरे सत्र में अपने अंकों में सुधार करने और बेहतर रैंक प्राप्त करने के लिए, छात्रों को प्रत्येक विषय यानी भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित में कम से कम 50-60 न्यूमेरिकल प्रति दिन हल करने की सलाह दी जाती है।

हालांकि अच्छी संख्या में प्रॉब्लम को हल करना आवश्यक है, लेकिन इन्हें अवधारणा की स्पष्टता के साथ करना जरूरी है क्योंकि इससे अधिक सफलता हासिल होती है क्योंकि परीक्षा में एक निश्चित पैटर्न नहीं हो सकता है। हालांकि सवालों को हल करना अच्छा है, लेकिन अवधारणाओं को समझने पर अधिक ध्यान केंद्रित करें।

जेईई को क्रैक करने के लिए क्रिटिकल थींकिग पर अधिक जोर देने के साथ-साथ विश्लेषणात्मक कौशल की अच्छी समझ और पकड़ की आवश्यकता होती है। इस प्रकार अवधारणा के अनुप्रयोग को भी समझना अत्यावश्यक है।

उन्होंने कहा, ”आपको परीक्षा के कठिनाई स्तर के बारे में बहुत अधिक विचार करना चाहिए। अगर कठिनाई का स्तर बढ़ता है, तो यह हर उम्मीदवार के लिए होगा। ऐसे किसी भी नये टॉपिक को शुरू न करें जिसे आपने पिछले एक साल या हाल के महीनों में नहीं पढ़ा हो। केवल फॉर्मूला को रिवाइज करें और पहले से ही अध्ययन किए गए टॉपिक से अधिक से अधिक प्रश्नों को हल करें।”

“अंत तक, आपको जेईई मेन के पाठ्यक्रम के अनुसार पूरी तरह से तैयार हो जाना चाहिए और जेईई मेन स्तर के पर्याप्त संख्या में प्रश्नों को हल कर लेना चाहिए। आप अपनी पूरी कोशिश और बेहतरीन प्रयासों से, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) की किसी भी शाखा में सीट सुरक्षित कर सकते हैं और जेईई एडवांस में उत्तीर्ण हो सकते हैं।”

“प्रतियोगिता का स्तर हर किसी के लिए कठिन होगा। आपके लिए यह कठिन है या आसान, यह परीक्षा के दिन वास्तविक प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में चयन किसी भी उम्मीदवार की तैयारी के स्तर, व्यापक और विश्लेषणात्मक कौशल, समय का प्रबंधन और सबसे महत्वपूर्ण परीक्षा के दिन वास्तविक प्रदर्षन पर निर्भर करता है। “

“गति और सटीकता पर ध्यान दें। अपने आप पर विश्वास करें, आप निश्चित रूप से जेईई मेन 2019 को क्रैक करेंगे। आप अपने दोस्त के प्रदर्शन को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं, लेकिन आप निश्चित रूप से खुद को नियंत्रित कर सकते हैं और खुद में सुधार कर सकते हैं। यदि आप सबसे अच्छा परिणाम देते हैं, तो आपको तुलना करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। परीक्षा के लिए फिट और स्वस्थ रहें क्योंकि यह परीक्षा में आपके प्रदर्शन को बढ़ाता है।”

कैसे पाएं जेईई (JEE) एडवांस 2019 में बेहतर रैंक? जानिए एक्सपर्ट की सलाह|
4 (80%) 8 votes

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here