indian army attacking on pakistan

पाकिस्तान की संसद मे इमरान ख़ान को शांति के लिए नोबेल पुरस्कार देने का प्रस्ताव रखा गया है क्योंकि उन्होने भारतीय पायलेट अभिनंदन को रिहा कर के शांति की एक नयी मिसाल कायम की है | लेकिन क्या वाकई मे इमरान ख़ान इस पुरस्कार के काबिल है? हमारा ये सवाल इसलिए है क्योंकि अगर सच मे पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान ख़ान को शांति चाहिए होती तो भारतीय सीमा पर इस तरह जमकर गोलाबारी नही होती |

हम आपको बता दें की जब से पाकिस्तान ने अभिनंदन को रिहा किया है तब से ले कर अब तक भारत के 4 CRPF जवान शहीद हो चुके हैं और पुंछ जिले में एक ही परिवार के 3 सदस्यों की मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल हो गए | पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार के गोले तथा भारी गन से आम नागरिकों के इलाकों को निशाना बनाया |

हमारी भारतीय सेना द्वारा भी पाकिस्तान को मुँह तोड़ जवाब दिया जा रहा है|

पाकिस्तान की तरफ से हो रही है भारतीय सीमा पर जमकर गोलाबारी
Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here