लंदन ।। कुछ जीव भले ही विलुप्त हो गए हों, मगर प्राकृतिक जगत में अभी भी जीवों की 87 लाख प्रजातियां मौजूद हैं। वैज्ञानिकों ने एक रिपोर्ट में यह दावा किया कि प्रजातियों का यह अब तक का ‘सबसे सटीक’ आंकड़ा है।

बीबीसी के अनुसार इन प्रजातियों के बड़े हिस्से की पहचान नहीं की जा सकी है, क्योंकि यह काम काफी पेचीदा और समय लेने वाला है। सभी प्रजातियों को वर्गीकृत करने में 1000 साल से ज्यादा का समय लग सकता है।

विज्ञान की जर्नल ‘प्लोस बायलोजी’ की रिपोर्ट के मुताबिक 87 लाख प्रजातियों में बड़ी संख्या जन्तुओं की है। इनमें कवक, पौधे और एक कोशिकीय जीवों की संख्या कम है। इसमें शैवाल और अति सूक्ष्म जीव भी शामिल हैं। जीवाणुओं और इस प्रकार के अन्य जीवों को इसमें शामिल नहीं किया गया है।

ज्ञात हो कि अब तक विश्व की केवल 14 प्रतिशत प्रजातियों की पहचान हो पाई है, जिसमें से नौ प्रतिशत प्रजातियां समुद्र की हैं।

धरती पर हैं जीवों की 87 लाख प्रजातियां
Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here