doctor hanuman chalisa rajasthan news
Picture credit - dainikbhaskar.com

भरतपुर (राजस्थान) डॉक्टरों को आपने पर्ची में दवा लिखते तो बहुत बार देखा होगा लेकिन क्या आपने कभी किसी डॉक्टर को मरीज़ की पर्ची में हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए लिखते हुए देखा है?

भरतपुर शहर में ऐसा सचमुच हो रहा है। दिनेश शर्मा नाम के एक डॉक्टर पिछले 20 साल से क्लिनिक चला रहे हैं और वह अक्सर अपने मरीज़ों को सुबह शाम हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए पर्ची में लिखते रहते हैं।

क्यों करते हैं ऐसा?

भरतपुर के रंजीतनगर में डॉक्टर दिनेश शर्मा के क्लिनिक में जब भी कोई मरीज़ आता है तो पहले वो उनसे यह सवाल करते हैं की क्या वो भगवान को मानते हैं या नहीं।

rajasthan doctor dinesh sharma bharatpur
Picture credit – dainikbhaskar.com

अगर मरीज़ भगवान को मानता है तो डॉक्टर उसे सुबहशाम हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए बोलते हैं और यदि वो भगवान को नहीं मानते हैं तो डॉक्टर साहब उन्हें कम से कम मंदिर जाने की सलाह तो देते ही हैं।

दिनेश शर्मा जी के अनुसार किसी भी बीमारी को ठीक करने के लिए दवा और दुवाओं दोनो की जरुरत होती है। एक ओर जहाँ दवा मरीज़ को शारीरिक रूप से राहत देती है वहीं पूजापाठ करने से मरीज़ को मानसिक शांति मिलती है।

इस वजह से वह अपने मरीज़ों को दवा लेने के साथ साथ रोज़ हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए भी कहते हैं।

हिंदी जगत से जुड़ी ऐसी अनोखी जानकारी पाने के लिए like करें हमारा Facebook पेज

डॉक्टर ने पर्ची में मुझे दवा लेने के साथ हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए लिखा..!
4.8 (95%) 4 votes

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here