rape image

पूरी दुनिया से यौन शोषण की कई दिल दहलाने वाली घटनाएं सामने आती रहती हैं| जिनमें कुछ तो ऐसी होती हैं जिससे इंसानियत भी शर्मसार हो जाए| ऐसा ही एक मामला दो साल पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में सामने आया था| जहां पेंसिलवेनिया के फिलाडेल्फिया में एक नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर उसके साथ एक हजार से अधिक लोगों ने शारीरिक संबंध बनाए थे| इस सनसनीखेज मामले के सुर्खियों में आने पर लोग सन्न रह गए थे|

एक अमेरिकी एजेंसी के मुताबिक उस वक्त 14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपने माता-पिता से किसी बात लेकर विवाद हुआ था | लड़की को इतना गुस्सा आया कि वो अपना घर छोड़कर भाग निकली | इस दौरान वह मानव तस्करी के एक रैकेट के चंगुल में फंस गई | उसे तस्करों ने एक होटल में बंधक बना लिया और फिर शुरू हुआ उस लड़की के यौन शोषण का खत्म न होने वाला सिलसिला | उस होटल में घंटे के हिसाब से ग्राहक आते थे और नाबालिग लड़की के साथ जबरन संबंध बनाकर चले जाते थे |

हैरानी की बात ये थी कि इस धंधे से जुड़े लोग सोशल मीडिया और विज्ञापन के जरिए ग्राहकों से संपर्क करते थे | होटल का मालिक भी इस रैकेट से जुड़ा हुआ था | जब वो लड़की इन दरिंदों के चंगुल से आजाद होकर पुलिस तक पहुंची तो उसकी कहानी सुनकर पुलिस वाले भी हैरान रह गए | लड़की ने अपने बयान में दावा किया कि दो साल के दौरान करीब 1000 से ज्यादा लोगों ने उसके साथ शारीरिक संबध बनाए |

पीड़िता के वकील नदीम बेज़ार ने कोर्ट में जानकारी देते हुए बताया कि होटल मालिक और वहां का स्टाफ मानव तस्करों को किराए पर कमरा देकर लड़की का शोषण करता था| ग्राहकों को कमरे किराए पर देने का झूठ बोलकर उनके कमरे में नाबालिग लड़कियों को शारीरिक संबंध बनाने के लिए भेजा जाता था | बताया जाता है कि कई लड़कियां इस रैकेट का शिकार बन चुकी हैं |

सहायक जिला अटॉर्नी एरीन ओब्रायन ने कोर्ट में खुलासा करते हुए बताया था कि इस मामले में चिन्हित होटल रूजवेल्ट इन कई बार देह व्यापार के धंधे में शामिल रहा है | इससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिसमें इस होटल की भूमिका रही है. पुलिस ने छानबीन शुरू की तो सच सामने आ गया| फिर होटल का मालिक भी जांच में पुलिस का सहयोगी बन गया था | उसने कोर्ट को बताया था कि दो साल तक लड़की से देह व्यापार कराया गया था |

पुलिस ने इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया था | लड़की को कानूनी कार्रवाई के बाद उसके माता-पिता के साथ भेज दिया गया था | लेकिन इस घटना ने एक बार फिर खुलासा कर दिया था कि लड़कियां अमेरिका में भी सुरक्षित नहीं हैं, वहां भी उन पर गंभीर अत्याचार होते हैं|

नाबालिग को 1000 लोगों ने बनाया था हवस का शिकार!
3 (60%) 1 vote

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here