pakistan pm imran khan

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्‍तान की हालत इन दिनों बेहद खराब चल रही है। देश में महंगाई लगातार आसमान छू रही है। दूध सहित कई खाने पीने की चीजों के दामों में बहुत तेजी से वृद्धि हुई है।

इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि कराची डेयरी फार्मर्स एसोसिएशन ने दूध के दाम में 23 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी कर दी है। जिसके पीछे एसोसिएशन का कहना है कि पशुओं को खिलाए जाने वाले चारे और ईंधन की कीमतें काफी बढ़ गई हैं इस वजह से उनके लिए दूध के दाम बढ़ाना मजबूरी थी।

पाकिस्‍तान के अंग्रेजी अखबार द डॉन ने भी इस खबर की पुष्टि की है। दूध के दामों में हुई ताजा बढ़ोतरी के बाद अब वहां पर इसकी कीमत 120 से 180 रुपये लीटर तक हो गई है।

आपको बता दें कि पाकिस्‍तान बीते पांच वर्षों के दौरान सबसे अधिक आर्थिक मुश्किलों से जूझ रहा है। पाकिस्तान में महंगाई पिछले पांच साल के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। मार्च महीने में महंगाई 9.4 फीसदी तक पहुंच गई। महंगाई बढ़ने, रुपये में गिरावट और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरें बढ़ाकर 10.75 फीसदी कर दी है।

वहीं दूसरी तरफ उस पर एफएटीएफ की तलवार भी लटकी है जो उसको काली सूची में डाल सकती है। यदि ऐसा हुआ तो पाकिस्‍तान भूखमरी तक का शिकार हो सकता है। यहां पर ये भी बताना जरूरी होगा कि सऊदी अरब की तरफ से पाकिस्‍तान को अरबों रुपये की मदद दी गई है, लेकिन इससे भी कुछ फर्क पड़ता दिखाई नहीं दे रहा है।

पिछले तीन महीने में ताजी सब्जियों, फलों और मांस के दाम खासकर शहरों में लगातर बढ़े हैं। जुलाई से मार्च के दौरान औसत महंगाई साल दर साल आधार पर 6.97 फीसदी बढ़ी है।

प्रशासन की पकड़ वहां की महंगाई पर कितनी है इसका अंदाजा आप इस बात से भी लगा सकते हैं कि प्रशासन ने दूध की कीमत 94 रुपये प्रति लीटर तय की है। इसको लेकर निर्देश भी दिए जा चुके हैं, लेकिन दूध बेचने वाले इन आदेशों को नकारते हुए अपनी मन मर्जी के मुताबिक दूध बेच रहे हैं। हालांकि प्रशासन की तरफ से अधिक कीमत पर दूध बेचने वालों के खिलाफ प्रशासन कार्रवाई कर रहा है। अब तक प्रशासन ने एक लाख से अधिक रुपये की जुर्माना राशि भी वसूल की है। वहीं एक को गिरफ्तार भी किया है।

एक नजर दूसरी चीजों के दामों पर

पाकिस्‍तान में बढ़ती महंगाई की गाज सिर्फ दूध पर ही नहीं गिरी है बल्कि वहां पर मार्च के मुकाबले अब प्‍याज की कीमत में करीब 40 फीसद, टमाटर 19 फीसद, चिकन 16 फीसद मूंग की दाल 13 फीसद, ताजे फल 12 फीसद गुड़ तीन फीसद चीनी 3 फीसद, बींस डेढ़ फीसद, मछली, मसाले व अन्‍य दालें, घी चावल, बेकरी से बने उत्‍पाद, आटा, कुकिंग ऑयल, चाय, गेंहू की कीमतों में एक-सवा फीसद की तेजी देखने को मिली है।

पाकिस्तान जल्द बन सकता है भुखमरी का शिकार, महंगाई पहुंची सातवें आसमान पर
4 (80%) 1 vote

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here