वाशिंगटन ।। भारतीय मूल के छह अमेरिकी छात्रों को अमेरिकी रोड्स स्कॉलर क्लास ऑफ 2012 के लिए चुना गया है। विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों की ओर से इसके लिए 830 छात्र उम्मीदवार थे, जिनमें से इन छह भारतीयों को चुना गया है।

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से दो या तीन साल के अध्ययन के लिए इस प्रतिष्ठित छात्रवृत्ति के लिए ईशान नाथ, आयशा बागची, नबील गिलानी, आनंद हबीब, मोहित अग्रवाल और तेनजिन सेलडन सहित 32 छात्रों को चुना गया है। ऑक्सफोर्ड की पढ़ाई पर प्रति वर्ष करीब 50,000 डॉलर का खर्च आता है।

ईशान ने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र, पृथ्वी प्रणाली व ऊर्जा विज्ञान की पढ़ाई की है। वह ऑक्सफोर्ड से विकास के लिए अर्थशास्त्र विषय में एमएससी करेंगे।

आयशा भी स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से हैं। उन्होंने दर्शन व इतिहास में स्नातक किया है। वर्तमान में वह इजरायल के जेरूसलम स्थित हिब्रू विश्वविद्यालय में अध्ययनरत हैं। वह ऑक्सफोर्ड में राजनीतिक सिद्धांत में एमफिल करेंगी।

भारतीय मां व बांग्लादेशी पिता के बेटे नबील ब्राउन विश्वविद्यालय से गणित व कम्प्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहे हैं। उनकी ऑक्सफोर्ड से कम्प्यूटर साइंस व शिक्षा में एमएससी करने की योजना है।

आनंद मदुरई की गीता हबीब व मोहम्मद हबीब के बेटे हैं। उनके माता-पिता ऑस्टिन में काम करते हैं। हबीब स्टैनफोर्ड से स्नातक हैं। हबीब की ऑक्सफोर्ड से सार्वजनिक नीति व चिकित्सा मानव-शस्त्र में डिग्री हासिल करने की योजना है।

मोहित अग्रवाल ने पिछले साल प्रिंस्टन से गणित में बीए किया है। वह ऑक्सफोर्ड से आर्थिक नीति में स्नात्कोत्तर डिग्री हासिल करेंगे।

हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला के रहने वाली तेनजिन सेलडन शरणार्थी एवं प्रवासी अध्ययन में और आधुनिक चीनी अध्ययन में एमएससी करेंगी।

भारतीय मूल के पूर्व रोड्स स्कॉलर्स में लूसियाना के गवर्नर बॉबी जिंदल, फिल्मकार गिरीश कर्नाड, चिकित्सक व लेखक अतुल गवांडे, पुलित्जर पुरस्कार विजेता लेखक सिद्धार्थ मुखर्जी (‘द एम्परर ऑफ ऑल मैलडीज: ए हिस्ट्री ऑफ कैंसर’) शामिल हैं।

भारतीय मूल के 6 अमेरिकी 2012 रोड्स स्कॉलर चुने गए
Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here