नई दिल्ली ।। भारतीय फुटबाल टीम के स्टार स्ट्राइकर सुनील छेत्री ने सोमवार को कहा कि वर्ष 2011 के लिए देश का सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी चुना जाना उनके लिए क्रिसमस और नववर्ष का नायाब तोहफा है। अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने सोमवार को छेत्री को वर्ष 2011 का सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी चुना। छेत्री का चयन इंडियन लीग (आई-लीग) में खेलने वाली टीमों के कोचों के मतों के आधार पर किया गया। कोचों ने इस सम्मान के लिए पांच खिलाड़ियों का चयन किया था लेकिन छेत्री को सबसे अधिक मत मिले।

छेत्री ने कहा, “मेरे लिए यह सम्मान बहुत मायने रखता है। यह देश का सबसे बड़ा फुटबाल सम्मान है। मुझे आज क्रिसमस और नववर्ष का तोहफा मिल गया। यह साल मेरे लिए बहुत अच्छे से शुरू हुआ था और इसका समापन भी शानदार तरीके से हुआ। मैं खुश हूं। मेरे पास इसे बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं। इस सम्मान से मेरा प्रदर्शन और निखरेगा।”

छेत्री ने 2011 सत्र में भारतीय टीम के लिए 17 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले और 13 गोल किए। यह इस वर्ष किसी भारतीय खिलाड़ी द्वारा किया गया सबसे अधिक गोल है।

इसके अलावा छेत्री ने क्लब स्तर पर खेलते हुए 20 मैचों में कुल 11 गोल किए। इसी वर्ष छेत्री को अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया और हाल ही में समाप्त सैफ चैम्पियनशिप में वह मैन ऑफ द चैम्पियनशिप चुने गए थे।

छेत्री ने कहा कि दूसरी बार इस सम्मान के लिए चुने जाने में उनके साथियों का भी अहम योगदान है। बकौल छेत्री, “टीम गेम में हर एक साथी का योगदान अहम होता है। कोई किसी के बगैर आगे नहीं बढ़ सकता। मेरे सभी साथियों, स्पोर्ट स्टाफ, कोच और यहां तक कि प्रशंसकों का इस सम्मान में अहम योगदान है। मैं सबका धन्यवाद करना चाहता हूं।”

मुझे क्रिसमस और नववर्ष का तोहफा मिल गया : छेत्री
Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here