Picture credit : express.co.uk

चॉकलेट खाना किसे पसंद नहीं होता। स्‍वाद के साथ-साथ ये सेहत को भी फायदा पहुंचाती है। कहते हैं कि लड़कियों को चॉकलेट बहुत पसंद होता है लेकिन आपको बता दें कि चॉकलेट हर उम्र के व्‍यक्‍ति को खानी चाहिए क्‍योंकि इससे सेहत को कई तरह के फायदे मिलते हैं।

बुजुर्गों के लिए भी है फायदेमंद

चॉकलेट को सेहत के अलावा दिमाग के लिए भी फायदेमंद बताया गया है। हाल ही में एक रिसर्च में सामने आया है कि चॉकलेट का सेवन करने से बुजुर्गों के संज्ञानात्‍मक कौशल को सुधारा जा सकता है। इससे उनकी याद्दाश्‍त बेहतर होती है और अन्‍य तरह की मानसिक गड़बडियां भी दूर होती हैं। इस शोध की मानें तो चॉकलेट के फायदे के कारण इसमें मौजूद कोका बीन है जो इसका प्रमुख घटक है और फ्लेवेनॉल्‍स का भी ये बेहतर स्रोत हैं।

रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि जो बुजुर्ग रोज़ाना कोका फ्लेवेनॉल्‍स का सेवन करते हैं उनमें सामान्‍य संज्ञान, ध्‍यान और याद्दाश्‍त से जुड़े कार्यों में सुधार पाया गया। इटली के एलक्‍यूविला विश्‍वविद्यालय की वेलिंगटिना सोकी का कहना है कि इस रिसर्च में कोका फ्लेवेनॉल्‍स का समय के साथ कम एवं कमजोर होती बुजुर्गों की संज्ञानात्‍मक क्षमता में सुधार के लिए इस्‍तेमाल का सुझाव देता है।

Picture credit medicalnewstoday.com

ऐसा कहा जाता है कि लड़कियों को चॉकलेट बहुत पसंद होती है लेकिन बहुत कम लोग इसके पीछे छिपे कारण के बारे में जानते हैं। तो चलिए आपको बता देते हैं कि लड़कियों को इतनी चॉकलेट क्‍यों पसंद होती है।

ये है कारण

चॉकलेट खाने पर शरीर में सेरो‍टोनिन नामक हार्मोन पैदा होता है जो मन को खुशी देने वाला माना जाता है। इस हार्मोन से मनोदशा को नियंत्रित किया जाता है और मूड को भी संतुलित किया जा सकता है। चॉकलेट खाने से महिलाओं में अवसाद तक कम किया जा सकता है।

चॉकलेट से शरीर को डोपामिन भी मिलता है जोकि दिमाग को और भी सतर्क बना देता है। इससे हमारे मानसिक हार्मोन में बहुत बदलाव आता है। डोपामिन की कमी की वजह से महिलाओं में ध्‍यान और एकाग्रता की कमी हो जाती है जोकि मूड खराब करने की संभावना को बढ़ा देता है।

Picture credit : steptohealth.com

अब आप सोच रहे होंगें कि अगर चॉकलेट खाने से मूड बेहतर होता है तो फिर ये महिलाओं को ही ज्‍यादा पसंद क्‍यों होती है ?

तो चलिए इसका कारण भी जान लेते हैं कि बाकी लोगों की तुलना में महिलाओं को ही चॉकलेट ज्‍यादा क्‍यों भाती है।

महिलाओं में माहवारी प्रक्रिया के कारण उनके शरीर में हर वक्‍त हार्मोंस बदलते रहते हैं जिसकी वजह से मनोदशा के परिवर्तन के प्रति ज्‍यादा संवेदनशील होती हैं। अब जितना ज्‍यादा व्‍यक्‍ति की मनोदशा में बदलाव होता है उतना अधिक वह अपने मूड को बैलेंस करने के लिए कुछ ना कुछ कोशिश करती रहती हैं और यही वो जगह है जहां पर चॉकलेट महिलाओं पर अपना जादू दिखाती है।

महिलाओं को चॉकलेट इसलिए ज्‍यादा पसंद होती है क्‍योंकि इससे उन्‍हें हार्मोनल परिवर्तन को बैलेंस करने में मदद मिलती है। चॉकलेट महिलाओं के मस्तिष्क को एक अलग तरीके से प्रभावित करता है।

 चॉकलेट से बढ़ाई जा सकती है बुजुर्गों की याद्दाश्‍त
5 (100%) 3 votes

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here